About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Saturday 21 July 2012

क्रिकेट में छत्तीसगढ़ की ऊंची उड़ान

0 अंडर-19 व 22 में प्लेट ग्रुप के बाद अंडर-16 में भी सेंट्रल जोन में हुआ प्रमोट
0 बीसीसीआई की दिल्ली में हुई बैठक में लिया गया निर्णय 
0 अगले साल रणजी की पूर्ण मान्यता मिलना तय


शंकर चंद्राकर
रायपुर। क्रिकेट में छत्तीसगढ़ ने सोमवार को एक और ऊंची उड़ान भरने की दिशा में एक कदम आगे बढ़ गया। दिल्ली में 16 जुलाई को हुई बीसीसीआई की बैठक में छत्तीसगढ़ को अंडर-16 में एसोसिएट से सेंट्रल जोन में प्रमोट कर दिया। छत्तीसगढ़ अंडर-19 व 22 वर्ग में पहले से ही प्लेट ग्रुप में प्रमोट हो चुका है। यह छत्तीसगढ़ स्टेट क्रिकेट संघ की बहुत बड़ी उपलब्धि है। अब छत्तीसगढ़ तीनों वर्गों में बीसीसीआई के एसोसिएट टूर्नामेंट से प्रमोट हो गया है। इस उपलब्धि के बाद छत्तीसगढ़ को अगले साल रणजी ट्राफी की पूर्ण मान्यता मिलना लगभग तय है।
छत्तीसगढ़ स्टेट क्रिकेट संघ के अध्यक्ष बलदेव सिंह भाटिया एवं सचिव राजेश दवे ने बताया कि छत्तीसगढ़ की अंडर-16 टीम अब सेंट्रल जोन टूर्नामेंट में राजस्थान, विदर्भ, मध्यप्रदेश व उत्तरप्रदेश के साथ खेलेगी। यह छत्तीसगढ़ के लिए बड़ी उपलब्धि है। प्रदेश की अंडर-16 टीम गत दो सालों से एसोसिएट ट्राफी चैंपियन है। इसका फायदा छत्तीसगढ़ को मिला। छत्तीसगढ़ को वर्ष 2008 में एसोसिएट मेंबर की मान्यता मिलने के बाद से प्रदेश संघ लगातार कई बड़े टूर्नामेंटों का आयोजन किया। साथ ही प्रदेश संघ ने लगातार तीन साल से तीनों वर्गों के बीसीसीआई एसोसिएट ट्राफी टूर्नामेंट का सफलतापूर्वक आयोजन किया। प्रदेश टीम तीनों वर्गों में चैंपियन रही। इसी तरह महिला सीनियर टीम भी इस साल एसोसिएट ट्राफी जीती। पिछले तीन सालों में छत्तीसगढ़ की क्रिकेट गतिविधियों को देखकर बीसीसीआई ने कई बार प्रदेश क्रिकेट संघ के कार्यों की तारीफ की थी। बीसीसीसीआई के एसोसिएट मेंबर प्राप्त राज्यों में सिर्फ छत्तीसगढ़ ही एकमात्र राज्य है, जो तीनों वर्गों में प्रमोट हुआ है। अगले साल रणजी की पूर्ण मान्यता मिलने के बाद छत्तीसगढ़ पूर्ण मान्यता हासिल करने वाला पहला राज्य बन जाएगा। 

खिलाड़ियों व प्रदेश संघ की मेहनत का फल : भाटिया
बीसीसीआई द्वारा छत्तीसगढ़ की अंडर-16 टीम को सेंट्रल जोन में प्रमोट किए जाने पर छग स्टेट क्रिकेट संघ के सचिव बलदेव सिंह भाटिया ने कहा कि यह प्रदेश के खिलाड़ियों व संघ के लिए खुशी की बात है। यह प्रदेश के खिलाड़ियों और प्रदेश संघ की कड़ी मेहनत का फल है। इसके लिए प्रदेश संघ बीसीसीआई का आभार व्यक्त करता है। आने वाले समय में छत्तीसगढ़ को रणजी की मान्यता मिलेगी तो यहां कई बड़े टूर्नामेंट का भी आयोजन किया जाएगा। इसका फायदा यहां के खिलाड़ियों को मिलेगा। 

छग के खिलाड़ियों के लिए दरवाजा खुला : दवे
छग स्टेट क्रिकेट संघ के सचिव राजेश दवे ने कहा कि अंडर-16 टीम के सेंट्रल जोन में प्रमोट होने से अब छत्तीसगढ़ तीनों वर्गों में प्रमोट हो गया है। एक तरह से यहां के खिलाड़ियों के लिए बीसीसीआई का दरवाजा पूरी तरह खुल चुका है। अब सिर्फ हमें आगे बढ़ना है। 11 सालों तक यहां के खिलाड़ी बीसीसीआई के बड़े टूर्नामेंटों में हिस्सा लेने से वंचित हो जाते थे, लेकिन अब सीधे ही बोर्ड के टूर्नामेंटों में हिस्सा लेंगे। इसके लिए प्रदेश क्रिकेट संघ और खिलाड़ियों ने काफी मेहनत की है। उसी का नतीजा हम सबके सामने है। 

वर्ष 2008 के बाद संघ की गतिविधियां
0 लगातार 2009 से तीन सालों तक बीसीसीआई एसोसिएट ट्राफी का आयोजन। प्रदेश की अंडर-19, 22 व 16 टीम तीनों वर्गों में चैंपियन हुए।
0 अंडर-14, 16, 19 व 22 के टूर्नामेंट आयोजित करना और यहां की टीम को दूसरे राज्यों में खेलने के लिए भेजना।
0 नवंबर 2010 में कनाडा की राष्ट्रीय टीम विश्वकप से पहले छत्तीसगढ़ दौरे पर आई। तीनों मैचों में छत्तीसगढ़ ने कनाडा को हराया।
0 पिछले साल अंडर-22 में प्लेट ग्रुप के मैच में छत्तीसगढ़ ने गोवा, असम, विदर्भ, हरियाणा  के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन किया।

No comments:

Post a Comment