About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Thursday 18 August 2011

छग के खिलाड़ियों में रणजी खेलने की क्षमता

0 एनसीए के फिटनेस कोच जी. नागेश प्रसाद ने कहा,
0 यहां के खिलाड़ी बेहद काबिल

एनसीए के कोच जी. नागेश प्रसाद (मध्य में)
 रायपुर। नेशनल क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के फिटनेस कोच जी. नागेश प्रसाद ने कहना है कि छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों में सीखने की बेहद ललक है और उनमें रणजी ट्रॉफी मैच खेलने की क्षमता है। छत्तीसगढ़ की अंडर-22 क्रिकेट टीम को विशेष ट्रेनिंग देने के लिए रायपुर आए श्री प्रसाद ने सात दिनों तक यहांॅ खिलाड़ियों को फिटनेस की विशेष ट्रेनिंग दी। वे बुधवार को बेंगलुरू लौट जाएंॅगे। 
श्री प्रसाद ने कहा कि ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने पाया कि यहांॅ के खिलाड़ी बेहद काबिल हैं। उन्होंने खिलाड़ियों को जो भी बातें सिखाईं, उसे उन्होंने बखूबी सीखा। उन्होंने बताया कि ट्रेनिंग में स्ट्रेचिंग, स्पीड, एंडुरेंस, एलिजबिलिटी व पावर पर ध्यान फोकस किया गया। खिलाड़ियों को क्रिकेट के हिसाब से अलग-अलग तरीके से रनिंग, जिम व स्वीमिंग पूल में ट्रेनिंग दी गई। श्री प्रसाद ने कहा कि क्रिकेट एक स्किल गेम है और उन्होंने खिलाड़ियों को उसी हिसाब से ट्रेनिंग दी। यहांॅ प्रत्येक खिलाड़ी फोकस होकर सीख रहा है।
श्री प्रसाद ने कहा कि खिलाड़ियों को डाइट के बारे में भी बताया गया। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों के अनफिट रहने का परिणाम टीम को भुगतना पड़ता है। इसमें सपोर्टिंग स्टाफ का महत्वपूर्ण रोल रहता है। विदेश में तो ग्रास रूट लेवल पर खिलाड़ी तैयार करना शुरू कर देते हैं। उन्होंने कहा कि वे सात दिनों तक यहांॅ खिलाड़ियों को फिटनेस से संबंधित जरूरी बातें सिखा दी हैं। टीम के लोकल कोच राहुल पांडे को भी उन्होंने जरूरी टिप्स दे दिए हैं। वे खिलाड़ियों को ट्रेनिंग देंगे।
अकादमी पर काम शुरू
छत्तीसगढ़ क्रिकेट संघ के अध्यक्ष बलदेव सिंह भाटिया ने कहा कि यहांॅ पर क्रिकेट अकादमी स्थापित करने का काम शुरू हो गया है। इसके लिए जगह की तलाश की जा रही है। उन्होंने कहा कि संघ ने अपने स्तर पर पूरी तैयारी कर ली है। जैसे ही बीसीसीआई से अनुमति मिलेगी, इस पर काम शुरू कर दिया जाएगा। इसके लिए शहर के अंदर या आसपास जमीन की तलाश की जा रही है। इसके लिए शासन से भी जमीन की मांॅग की है। उन्होंने कहा कि बोर्ड के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने एजीएम की बैठक में छत्तीसगढ़ क्रिकेट के कार्यों की काफी सराहना की और निर्धारित समय पर प्रदेश संघ को पूर्ण मान्यता मिलने की बात कही। संघ के सचिव राजेश दवे ने कहा कि यह ट्रेनिंग 14 अक्टूबर से गोवा के साथ प्लेट ग्रुप खेलने वाली अंडर-22 टीम के लिए था। खिलाड़ियों को अलग-अलग मैदान में ट्रेनिंग दी गई।
 

No comments:

Post a Comment