About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Sunday 28 August 2011

गिनीज वर्ल्ड रिकार्डधारी राजदीप का जोरदार स्वागत

0 बीजिंग से नया गिनीज रिकार्ड बनाकर लौटे
   छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव बलदेव सिंह भाटिया के साथ राजदीप सिंह हरगोत्रा.
 रायपुर। चीन के बीजिंग में हुए एक कार्यक्रम में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड बनाकर लौटे राजदीप सिंह हरगोत्रा का शनिवार को रेलवे स्टेशन पर जोरदार स्वागत किया गया। स्टेशन से वे छत्तीसगढ़ ओलिंपिक संघ के कार्यालय गए, जहां संघ के महासचिव बलदेव सिंह भाटिया ने उनका स्वागत किया।
स्टेशन पर राजदीप के पहुंचते ही वहां बाजे-गाजे बजने लगे। ट्रेन से उतरते ही राजदीप के माता-पिता, कोच व छत्तीसगढ़ जंप रोप के सचिव अखिलेश दुबे और खिलाड़ियों ने पुष्पहार से जोरदार स्वागत किया। इस दौरान राजदीप के पिता बलवीर सिंह हरगोत्रा, मांॅ इंदरजीत कौर, कोच श्री दुबे, क्रिकेट संघ के कोषाध्यक्ष विजय शाह, श्याम मोहदीकर, नवनीत झा, नन्हे खिलाड़ी अभिजीत, अनुराग, हिमांशु, रक्षक समेत अन्य खिलाड़ी मौजूद थे। स्टेशन पर स्वागत के बाद राजदीप ने छग ओलिंपिक संघ के कार्यालय पहुंॅचकर संघ के महासचिव श्री भाटिया से मुलाकात की। श्री भाटिया ने वहां पर राजदीप का पुष्पहार से स्वागत किया और उनकी उपलब्धि पर उन्हें बधाई दी। श्री भाटिया ने कहा कि राजदीप की उपलब्धि भारत व छत्तीसगढ़ के लिए गौरव की बात है। राजदीप ने अपनी सफलता को छत्तीसगढ़ को समर्पित किया। इसके लिए उन्होंने प्रदेश ओलिंपिक संघ के अध्यक्ष व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह व महासचिव श्री भाटिया के प्रति आभार व्यक्त किया।
अगला लक्ष्य वर्ल्ड कप : राजदीप

  रायपुर पहुँचाने के बाद रेलवे स्टेशन पर राजदीप अपने माता-पिता के साथ.
 राजदीप ने कहा कि अब उनका अगला लक्ष्य 2012 में यूएसए में होने वाले वर्ल्ड कप में पदक जीतकर भारत का परचम फहराना। उन्होंने कहा कि चीन में मिली सफलता से वे बेहद खुश हैं। नया रिकार्ड बनाना उनके लिए चुनौती थी, लेकिन वे सफल हो गए। उन्होंने अमेरिका में इंटरनेशनल ट्रेनिंग के लिए फेडरेशन से चर्चा की है। राजदीप ने कहा कि जंप रोप का प्रदर्शन वुडन फ्लोर पर किया जाता है। यहां इसकी कमी है, इसलिए सीमेंट फ्लोर में प्रैक्टिस करनी पड़ती है, इससे प्रदर्शन प्रभावित होता है। राजधानी के इंडोर स्टेडियम में वुडन फ्लोर है। वहांॅ पर नियमित प्रैक्टिस की सुविधा मिल जाए तो बेहतर होगा।

No comments:

Post a Comment