About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Tuesday 15 March 2011

विश्व कप : द. अफ्रीका क्वार्टर फाइनल में

आयरलैंड को 131 रनों से हराया, 
डुमिनी फंसे 99 के फेर में
डुमिनी
कोलकाता.  दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम ने ऐतिहासिक ईडन गार्डंस स्टेडियम में मंगलवार को खेले गए आईसीसी विश्व कप-2011 के ग्रुप-बी मुकाबले में आयरलैंड को 131 रनों से हरा दिया। 273 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही आयरलैंड की टीम 33.3 ओवरों में 141 रन बनाकर पेवेलिटन लौट गई।
इस जीत ने दक्षिण अफ्रीका को अपने ग्रुप में आठ अंकों के साथ शीर्ष पर पहुंचा दिया है। उसके खाते में पांच मैचों में चार जीत दर्ज हैं जबकि इंग्लैंड के खिलाफ उसे हार का सामना करना पड़ा था। उसे अपना अंतिम मुकाबला बांग्लादेश के साथ खेलना है। आयरिश टीम ने 51 रन के कुल योग पर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद केविन ओ' ब्रायन तथा गैरी विल्सन ने छठे विकेट के लिए 41 रन जोड़कर थोड़ा संघर्ष किया लेकिन 92 रन के कुल योग पर इन दोनों के आउट होने के बाद आयरलैंड की पारी सस्ते में सिमट गई। केविन ने 19 रन बनाए जबकि विल्सन ने 48 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से 31 रनों की अच्छी पारी खेली। कप्तान विलियम पोर्टरफील्ड छह रन बनाकर पेवेलियन लौटे जबकि पॉल स्टर्लिग 10 रन बना सके। एड जॉएस से टीम को काफी उम्मीदें थीं लेकिन वह भी 12 रन बनाकर आउट हो गए। आयरलैंड के स्टार बल्लेबाज नियाल ओ' ब्रायन 10 रन बना सके। इसके अलावा जॉन मूनी ने 14, ट्रेंट जान्सटन ने 12 और जार्ज डॉकरेल ने 16 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका की ओर से मोर्ने मोर्कल और रोबिन पीटरसन ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि जैक्स कैलिस को दो सफलता मिली। जोहान बोथा और ज्यां पॉल ड्यूमिनी ने भी एक-एक विकेट झटका।
इससे पहले, मध्यक्रम के धुरंधर बल्लेबाज डुमिनी (99) की शानदार पारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने आयरलैंड के सामने 273 रनों का लक्ष्य रखा। टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीकी टीम ने अपने पांच महत्वपूर्ण विकेट 117 रनों पर ही गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद ड्यूमिनी ने कोलिन इंग्रैम (46) और जेहान बोथा (नाबाद 21) के साथ शानदार साझेदारियां निभाकर अपनी टीम को सम्मानजनक स्थिति में पहुंचा दिया।
106 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से अपनी पारी को संवारने वाले ड्यूमिनी के साहस की बदौलत दक्षिण अफ्रीकी टीम निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 272 रन बनाने में सफल रही। ड्यूमिनी और इंग्रैम के अलावा मोर्ने वैन विक ने भी 42 रनों की बेहद उपयोगी पारी खेली। पहला विकेट 24 रन के कुल योग पर गिरने के बाद कप्तान ग्रीम स्मिथ (7) और विक ने दूसरे विकेट के लिए 28 रन जोड़े लेकिन स्मिथ के दुर्भाग्यपूर्ण ढंग से रन आउट होने के बाद विक ने जैक्स कैलिस (19) के साथ तीसरे विकेट के लिए 32 रन जोड़े। इसके बाद विक पेवेलियन लौटे। कैलिस का विकेट भी सस्ते में गिर गया। कैलिस 95 रन के कुल योग पर पेवेलियन लौटे थे। इसके बाद ड्यूमिनी ने फाफ डू प्लेसिस के साथ पांचवें विकेट के लिए 22 रन, इंग्रैम के साथ छठे विकेट के लिए 87 रन और बोथा के साथ सातवें विकेट के लिए 65 रन जोड़े। भारत के खिलाफ अर्धशतक लगाने वाले आमला 18 रन ही बना सके जबकि स्मिथ सात रन के व्यक्तिगत योग पर रन आउट हुए। स्मिथ का विकेट 52 रन के कुल योग पर गिरा जबकि विक का विकेट 84 रन के कुल योग पर गिरा। विक ने अपनी 41 गेंदों की तेज पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया।
-----------------------------------------
स्कोर कार्ड
दक्षिण अफ्रीका                                          रन    गेंद    4    6
अमला कै डोकरेल बो रैनकिन                        18    17    1    1
स्मिथ रनआउट                                           7    18    0    0
वान विक बो डोकरेल                                   42    41    7    1
कैलिस रनआउट                                         19    31    3    0
डुमिनी कै के ओब्रायन बो मूनी                      99    103    6    1
प्लेसिस कै जानसन बो स्टर्लिंग                   11    19    0    0
इनग्राम बो जानसन                                  46    43    7    0
बोथा नाबाद                                            21    28    1    0
पीटरसन नाबाद                                       0    0    0    0
अतिरिक्त : 9, कुल : 50 ओवर में 7 विकेट पर 272 रन। विकेटपतन : 1-24 (हाशिम अमला, 4.4), 2-52 (ग्रीम स्मिथ, 9.4), 3-84 (वान विक, 15.5), 4-95 (जैक्स कैलिस, 20.3), 5-117 (फाफ डू प्लेसिस, 26.3), 6-204 (इनग्राम, 39.4), 7-269 (जेपी डुमिनी, 49.4). गेंदबाजी : रैनकिन 10-0-59-1, टेÑंट जानसन 10-0-76-1, जान मूनी 8-0-36-1, जार्ज डोकरेल 10-0-37-1, पाल स्टर्लिंग 10-0-45-1, अलेक्स कुसैक 2-0-14-0.
आयरलैंड                                            रन    गेंद    4    6
पोर्टरफील्ड कै स्मिथ बो मोर्केल                 6    8    1    0
स्टर्लिंग कै कैलिस बो मोर्केल                    11    21    2    0
जोयसे पगबाधा बो बोथा                         12    24    2    0
एन ओब्रायन कै वान विक बो कैलिस         10    16    0    1
विल्सन पगबाधा बो पीटरसन                   31    48    4    1
केविन कै अमला बो पीटरसन                   19    24    2    0
कुसैक कै स्मिथ बो पीटरसन                    7    11    1    0
मूनी कै वान विक बो कैलिस                    14    28    1    0
जानसन कै वान विक बो डुमिनी               12    16    0    1
डोकरेल कै वान विक बो मोर्केल                16    12    3    0
रैनकिन नाबाद                                      0    2    0    0
अतिरिक्त : 4, कुल : 33.2 ओवर में 141 रन (आलआउट)। विकेटपतन : 1-8 (विलियम पोर्टरफील्ड, 1.6), 2-19 (पाल स्टर्लिंग, 3.3), 3-35 (एन ओब्रायन, 8.5), 4-51 (जोयसे, 11.5), 5-92 (केविन ओब्रायन, 21.3), 6-92 (विल्सन, 21.5), 7-107 (कुसैक, 25.5), 8-123 (टेट जानसन, 29.5), 9-137 (जान मूनी, 32.4), 10-141 (डोकरेल, 33.2). गेंदबाजी : डेल स्टेन 4-1-13-0, मोर्न मोर्केल 5.2-0-33-3, जैक्स कैलिस 6-1-20-2, जोहान बोथा 8-0-32-1, रोबिन पीटरसन 8-0-32-3, जेपी डुमिनी 2-0-11-1.
---------------------------------------------------------
आस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच के 
बाद संन्यास ले लेंगे डेविसन
जान डेविस
बेंगलुरु. विश्व कप के   सबसे उम्रदराज खिलाड़ी कनाडा के आलराउंडर जान डेविसन ने आज घोषणा की कि वह बुधवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ ग्रुप-ए मैच के बाद अंतरराष्टÑीय क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।
41 वर्षीय डेविसन दक्षिण अफ्रीका में हुए 2003 के टूर्नामेंट के दौरान बुलंदियों पर पंहुचे थे जहां उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ उस समय विश्व कप का सबसे तेज शतक बनाया था। डेविसन विश्व कप के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी है। हालांकि इस टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है और वह चार पारियों में मात्र 19 रन बना पाए थे। आस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच उनका 32वां एकदिवसीय अंतरराष्टÑीय मैच होगा। वह अब तक 27.06 के औसत से 785 रन बना चुके हैं जिनमें पांच अर्धशतक और एक शतक शामिल है।
----------------------------------

No comments:

Post a Comment