About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Monday 6 February 2012

बॉक्सिंग में भारत की तैयारी अच्छी : संधु

भारतीय बोक्सिंग टीम के खिलाड़ी कोच गुरुबख्श सिंह संधू के साथ. 


0 भारतीय बॉक्सिंग टीम के मुख्य कोच गुरुबख्श सिंह संधु ने कहा, बॉक्सिंग अनिश्चितता का खेल है, दावे करना मुश्किल
0 फिर भी ओलिंपिक में पदक की उम्मीद

रायपुर। भारतीय बाक्सिंग टीम के मुख्य कोच गुरुबख्श सिंह संधु का कहना है कि लंदन ओलिंपिक के लिए भारत की तैयारी अच्छी चल रही है। अब तक चार बॉक्सर ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं और अभी छह वर्गों के क्वालीफायर मुकाबले में हिस्सा लेना है। इसमें भी भारतीय खिलाड़ियों के क्वालीफाई करने की उम्मीद है। 
रायपुर में पत्रकारों को संबोधित करते गुरुबख्श सिंह संधू. 
रायपुर में 5 फरवरी को भारत और रूस के खिलाड़ियों के बीच होने वाले 'मोनेट बॉक्सिंग फाइट नाइट" मुकाबले में भारतीय टीम के साथ हिस्सा लेने आए श्री संधु ने कहा कि बॉक्सिंग अनिश्चितता का खेल है। इसमें कुछ भी दावे करना मुश्किल होता है। फिर भी तैयारी के हिसाब से लंदन ओलिंपिक में पदक की उम्मीद कर सकते हैं। लंदन ओलिंपिक के पहले भारतीय टीम जर्मनी, चेक रिपब्लिक, कजाखस्तान व थाईलैंड का दौरा करेगी। भारतीय खिलाड़ी 5 से 12 अप्रैल तक कजाखस्तान के अस्ताना में होने वाले ओलिंपिक क्वालीफायर मुकाबले में हिस्सा लेंगे। साथ ही डोमेस्टिक टूर्नामेंट में भी शामिल होंगे। भारतीय टीम जुलाई में आयरलैंड दौरे पर जाएगी, वहां भी खिलाड़ियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा। वहीं से खिलाड़ी ओलिंपिक में हिस्सा लेने लंदन चले जाएंगे। 

मेडल का रंग बदलने व संख्या बढ़ाने का लक्ष्य 
लंदन ओलिंपिक में पदक जीतने के बारे में पूछने पर श्री संधु ने कहा कि ओलिंपिक में बेहद टफ मुकाबला होगा। इसके बावजूद बीजिंग ओलिंपिक में मिले मेडल का रंग बदलने व पदकों की संख्या बढ़ाने का लक्ष्य रहेगा। पटियाला साई सेंटर में सभी क्वालीफाई करने वाले खिलाड़ियों व क्वालीफायर मुकाबले में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों के लिए विशेष प्रशिक्षण चल रहा है। खिलाड़ियों को उनके अलावा क्यूबा के कोच बीआई फर्नांडीज द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है।  

बॉक्सिंग की लोकप्रियता में मीडिया का हाथ
श्री संधु ने कहा कि देश में बॉक्सिंग को लोकप्रिय बनाने में मीडिया का महत्वपूर्ण हाथ है। मीडिया के प्रोत्साहन की बदौलत ही आज बॉक्सिंग में पदक जीत रहे हैं। 1980 में जब भारतीय टीम 10 अंतरराष्ट्रीय पदक लौटने के बाद भी निगेटिव कवरेज मिला, लेकिन अब ऐसा नहीं है।  

छत्तीसगढ़ में अकादमी खुलने से निकलेंगे बॉक्सर
श्री संधु ने कहा कि छत्तीसगढ़ में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। रायपुर में मोनेट ग्रुप द्वारा बॉक्सिंग अकादमी खोलने का प्रस्ताव है। इसके खुलने से यहां से कई बॉक्सर निकलेंगे। उन्होंने कहा कि राजेंद्र प्रसाद जैसे प्रतिभावान बॉक्सर ओलिंपियन यहॉं से निकले हैं। 

कुछ भी कहना मुश्किल : मनोज कुमार
लंदन ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर मनोज कुमार ने कहा कि ओलिंपिक में पदक जीतने के बारे में कुछ भी कहना अभी बेहद मुश्किल है। यह एक तरह से कुएं से पानी निकालने जैसा है। पटियाला में इसकी अच्छी तैयारी चल रही है। 
 
भारतीय टीम : मनोज कुमार, परमजीत सिंह समोटा, कुलदीप सिंह, मनप्रीत सिंह, रामानंद व शिव थापा शामिल हैं। कोच गुरुबख्श सिंह संधु। 
रूसी टीम : अलीखान अवतारखानोव, हसीकोव रोमन, चेरेवकोव लेव, जेयत्सेव दिमित्री व शारवाशिद्जे इराक्लीय शामिल हैं। 

No comments:

Post a Comment