About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Friday 8 July 2011

तालुकदार ने ओलिम्पिक का टिकट कटाया

 कोलकाता। भारत के जयंत तालुकदार ने तुरिन में चल रहे तीरंदाजी विश्व कप में शुक्रवार को पुरुषों के व्यक्तिगत रिकर्व वर्ग में शानदार प्रदर्शन कर अगले वर्ष होने वाले लंदन ओलिम्पिक की पात्रता हासिल कर ली।
एलीमिनेशन राउंड में पाँचवें क्रम के तालुकदार ने बाई के जरिए तीसरे दौर में प्रवेश किया। वहाँ उन्होंने 28वें क्रम के फिनलैंड के एंटी टेकोनेईमी को 6-4 से हराकर लंदन ओलिम्पिक की पात्रता हासिल की। तालुकदार ओलिम्पिक की पात्रता हासिल करने वाले 8 व्यक्तिगत खिलाड़ियों में से एक तीरंदाज हैं। भारत की दीपिका कुमारी, लैशराम बोम्बाल्या देवी और चेक्रोवोलु स्वुरो की टीम पहले ही तीन कोटा स्थान हासिल कर चुकी हैं। इस प्रकार भारतीय तीरंदाजों ने ओलिम्पिक के चार कोटा स्थान अर्जित कर लिए हैं।
वैसे ओलिम्पिक की पात्रता हासिल करने के बाद तालुकदार को लक्जमबर्ग के जैफ हेन्कल्स के हाथों 5-6 से हार का सामना करना पड़ा। 5-5 की बराबरी के बाद एक-एक तीर के टाइब्रेकर में तालुकदार 9-10 से हार गए। भारत के तरुणदीप रॉय तीसरे दौर में एथेंस ओलिम्पिक के स्वर्ण पदक विजेता मार्को गालियाजो से हारे। पाँच सेट के बाद स्कोर बराबर रहने पर फैसला टाईब्रेकर के जरिए हुआ। 10 अंकों के टाइब्रेकर में दोनों तीरंदाज बराबर रहे, लेकिन गालियाजो को विजेता घोषित किया गया क्योंकि उनके तीर केंद्र के करीब लगे थे। एक अन्य भारतीय राहुल बनर्जी जापान के हिदेकी किकुची से 4-6 से हारे। महिलाओं के वर्ग में दीपिका तथा बोम्बाल्या दोनों तीसरे दौर से आगे नहीं बढ़ पाईं। नौवें क्रम की दीपिका को पोलैंड की नतालिया लेस्नियाक के हाथों 5-6 से तथा 15वें क्रम की बोम्बाल्या को 18वें क्रम की मिरांडा लिक (अमेरिका) के हाथों 3-7 से हार झेलनी पड़ी। 

No comments:

Post a Comment