About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Friday 15 July 2011

छत्तीसगढ़ को नेशनल ट्रायथलान व एक्वाथलान की मेजबानी

0 प्रदेश में पहली बार होगा ट्रायथलान का राष्ट्रीय स्तर का बड़ा आयोजन
0 देशभर के करीब 400 खिलाड़ी जुटेंगे
0 स्वीमिंग, साइकिलिंग व दौड़ में एक साथ दमखम 

दिखाएंगे खिलाड़ी

रायपुर। राज्य निर्माण के बाद पहली बार छत्तीसगढ़ को नेशनल ट्रायथलान व एक्वाथलान जैसे बड़े टूर्नामेंट के आयोजन की मेजबानी मिली है। भारतीय ट्रायथलान महासंघ ने छत्तीसगढ़ को नेशनल जूनियर व सीनियर ट्रायथलान चैंपियनशिप और नेशनल सब-जूनियर व जूनियर एक्वाथलान चैंपियनशिप आयोजित करने की जिम्मेदारी दी है। राज्य में पहली बार होने वाली इस बड़ी स्पर्धा का आयोजन नवंबर में रायपुर व नई राजधानी क्षेत्र में आयोजित किया जाएगा। इसमें महिला व पुरुष दोनों वर्गों के मुकाबले होंगे।

छत्तीसगढ़ ट्रायथलान एसोसिएशन के अध्यक्ष एडीजी रामनिवास व सचिव डॉ. विष्णु श्रीवास्तव ने बताया कि यह राज्य के लिए गौरव की बात है कि प्रदेश को पहली बार यह मौका मिला है। इसमें देशभर के चुनिंदा करीब 400 राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी हिस्सा लेंगे।

प्रतियोगिता रायपुर व नई राजधानी क्षेत्र में नवंबर के दूसरे हफ्ते में आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश संघ की ओर से इंडिया फेडरेशन को पत्र लिखकर 19 व 20 नवंबर की तिथि प्रतियोगिता के लिए मांॅगी गई है। यदि फेडरेशन ने प्रतियोगिता के लिए तिथि निर्धारित कर दी तो 17 नवंबर से देशभर के खिलाड़ियों का आना शुरू हो जाएगा। इसमें हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों को 10 अक्टूबर तक अपना पंजीयन कराना होगा। खिलाड़ियों के लिए इस स्पर्धा का खास महत्व होगा, क्योंकि इसमें प्रदर्शन के आधार पर भारतीय टीम का चयन किया जाएगा।

स्वीमिंग, साइकिलिंग व दौड़ एक साथ
ट्रायथलान में खिलाड़ियों को तीन खेलों स्वीमिंग, साइकिलिंग व दौड़ में एक साथ प्रदर्शन करना होता है। महिला-पुरुष सीनियर वर्ग में 1.5  किमी तैराकी, 40 किमी साइकिलिंग व 10 किमी दौड़ की स्पर्धा होगी। ट्रायथलान के जूनियर वर्ग में 7.5 किमी तैराकी, 20 किमी साइकिलिंग व 5 किमी दौड़ की प्रतियोगिता होगी। इसी तरह एक्वाथलान के जूनियर वर्ग में 500 मीटर तैराकी व 5 किमी दौड़ की स्पर्धा होगी। एक्वाथलान सब-जूनियर वर्ग में 3.5 मीटर तैराकी व 3 किमी दौड़ की प्रतियोगिता होगी। ट्रायथलान व एक्वाथलान दोनों ही खेलों में खिलाड़ी को बिना रुके एक के बाद एक तीनों इवेंट में इंडिया फेडरेशन द्वारा निर्धारित समय पर प्रदर्शन करना होता है। प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ की टीम भी हिस्सा लेगी।

लाखों के इनाम

इसमें विजेता व उपविजेताओं को डेढ़ लाख रुपए के नकद पुरस्कार दिए जाएंॅगे। संघ के सचिव डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि पूरे आयोजन में करीब 25 लाख रुपए का व्यय प्रस्तावित है। इसमें खिलाड़ियों के पुरस्कार के अलावा आवास, भोजन, परिवहन, प्रमाणपत्र, आयोजन स्थल की तैयारियांॅ, प्रचार-प्रसार, खेल उपकरण, स्टेशनरी व चिकित्सा सुविधा आदि शामिल हैं। इसमें हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों को टीए-डीए भी दिया जाएगा। इसकी पूर्ति खेल विभाग से अनुदान, सीएसईबी के अनुदान व अन्य प्रायोजकों के सहयोग से की जाएगी।

स्थल निरीक्षण के लिए समिति गठित
नेशनल ट्रायथलान चैंपियनशिप के आयोजन के लिए प्रदेश संघ ने स्थल निरीक्षण की तैयारियांॅ शुरू कर दी हैं। इसके लिए संघ ने समिति गठित की है। समिति में सुरेंद्र दुबे, डॉ. आलोक दुबे, विनित सक्सेना, संदीप गोविलकर, डॉ. प्रमोद मैने व विकासनाथ शामिल हैं। सभी सदस्य रायपुर व नई राजधानी के आसपास के क्षेत्र व तालाबों का निरीक्षण कर रहे हैं।

सभी खेल संघों का सहयोग
संघ के सचिव डॉ. श्रीवास्तव ने कहा कि यह बड़ा टूर्नामेंट है, जिसमें तीन खेलों का एक साथ प्रदर्शन होता है। इस कारण इसमें छत्तीसगढ़ ओलिंपिक संघ, खेल विभाग, प्रदेश के सभी खेल संघों के पदाधिकारी व स्कूल-कालेज के खेल अधिकारियों का सहयोग लिया जाएगा। सभी से इसमें सहयोग का आश्वासन मिला है।

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
संघ के अध्यक्ष रामनिवास का कहना है कि इस बड़े टूर्नामेंट में देशभर के खिलाड़ी, कोच व निर्णायक आएंॅगे। बाहर से आने वाले खिलाड़ियों को छत्तीसगढ़ की गौरवशाली संस्कृति से अवगत होने का अवसर मिलेगा। साथ ही इससे छत्तीसगढ़ में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

1 comment: