About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Saturday 15 January 2011

जोहानिसबर्ग में गेंदबाजों ने दिलाई जीत

  जोहानिसबर्ग.  वांडरर्स स्टेडियम में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बूते भारत ने मेजबान दक्षिण अफ्रीका को बेहद रोमांचक मुकाबले में एक रन से हराकर पांच मैचों की सीरीज को 1-1 की बराबरी पर ला दिया है। भारत के 190 रन के जवाब में मेजबान टीम 189 रन पर आल आउट हो गई। भारत की ओर से गेंदबाजी में उम्दा प्रदर्शन करने वाले मुनाफ पटेल मैन आफ द मैच रहे। उन्होंने 8 ओवर में 29 रन देकर 4 विकेट झटके। इसके अलावा उन्होंने टीम के लिए विजयी गेंद भी फेंका और आखिरी ओवर में दो विकेट लेकर भारत को जीत दिला दी।
  दक्षिण अफ्रीका को पहला झटका मुनाफ पटेल ने दिया। उन्होंने शानदार फॉर्म में चल रहे हाशिम अमला को 4 रन के निजी स्कोर पर विकेट के पीछे कैच आउट कराया। दक्षिण अफ्रीका के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज लोनवाबो सोतसोबे ने एक बार फिर घातक गेंदबाजी करते हुए मात्र 22 रन पर चार विकेट लेकर भारत को 47.2 ओवर में 190 रन पर निपटा दिया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे भारत की तरफ से युवराज सिंह (53) और कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी (38) को छोड़कर अन्य कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया। सोत्सोबे ने युवराज और धोनी सहित कुल चार विकेट झटके। पिछले मैच में चार विकेट लेकर मैन आॅफ द मैच रहे सोतसोबे ने ओपनर मुरली विजय (16) और सुरेश रैना (11) को अपना शिकार बनाया। डेल स्टेन ने 35 रन पर दो विकेट और मोर्न मोर्कल ने 32 रन पर दो विकेट लेकर भारत का 47.2 ओवर में पुलिंदा बांध दिया। जोहान बोथा ने मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर (24) का कीमती विकेट लिया। भारत ने अपने आखिरी सात विकेट सिर्फ 40 रन जोड़कर गंवा दिए। भारतीय बल्लेबाजी लगातार दूसरे मैच में फ्लॉप रही। युवराज ने 68 गेंदों में चार चौकों की मदद से 53 रन और धोनी ने 61 गेंदों में एक चौके की मदद से 38 रन बनाए। लेकिन कोई भी भारतीय बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों पर हावी होता नजर नहीं आया। युवराज और धोनी ने चौथे विकेट के लिए 83 रन जोड़े। कप्तान धोनी का यूसुफ पठान को बाहर रख विजय और रैना को उनकी खराब फॉर्म के बावजूद खेलाने का फैसला समझ से परे था। दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों की सटीक गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षकों के बेहतरीन प्रदर्शन ने भी भारतीय बल्लेबाजो को दबाव में रखा। डेविड मिलर ने सीधे थ्रो से विराट कोहली (22) को रन आउट किया। भारत एक समय तीन विकेट पर 150 रन बनाकर अच्छी स्थिति में था। लेकिन सोतसोबे ने जैसे ही युवराज का विकेट लिया भारतीय पारी का पतन होने में ज्यादा समय नहीं लगा।  भारत ने 42वें ओवर में बल्लेबाजी पावरप्ले लिया। उस समय भारत का स्कोर चार विकेट पर 169 रन था। लेकिन भारत ने पांच ओवर के पावरप्ले में मात्र 14 रन जोड़कर रैना (11), धोनी (38), हरभजन सिंह (3) और जहीर खान (शून्य) के विकेट गंवा दिए। सातवें नंबर पर उतरे रोहित शर्मा नौ रन बनाकर मौर्कल की गेंद पर पगबाधा हुए। स्टेन ने आशीष नेहरा (एक) को आउट कर भातरीय पारी को समेट दिया।

No comments:

Post a Comment