About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Sunday 30 January 2011

मां और पत्नी पर गुस्सा करते हैं सचिन

मुंबई. क्रिकेट के मैदान में हमेशा शांत रहने वाले 'किंग आफ क्रिकेट' सचिन तेंदुलकर को भी गुस्सा आता है। ऐसा हम नहीं कह रहे हैं बल्कि यह खुद सचिन का कहना है। एक समारोह में सचिन ने खुद अपने जीवन का यह राज खोलते हुए बताया कि उन्हें भी गुस्सा आता है। वह अपना गुस्सा अपनी मां और पत्नी पर उतारते हैं। सचिन ने अपने भाई नितिन की कविताओं और अपने स्वगर्वासी पिता रमेश तेंदुलकर की मराठी कविताओं की सीडी रिलीज करने के बाद कहा कि उन्हें कभी-कभी क्रिकेट के मैदान पर भी गुस्सा आता है। उन्होंने कहा, 'आपको खेल के मैदान में अपने गुस्से पर नियंत्रण रखना होता है क्योंकि आप वहां भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे होते हैं। कई बार मैं अपना गुस्सा ड्रेसिंग रूम में निकालता हूं। कई बार ऐसा होता है जब कोई निर्णय आपके खिलाफ चला जाता है और आप मैच हार जाते हैं। यह कई बार हुआ है, मगर मैं उन अंपायरों के नाम नहीं लूंगा।' जब सचिन से पूछा गया कि क्या वे अपनी मां और पत्नी के गुस्से से डरते हैं। उन्होंने कहा वे लोग मेरे गुस्से से डरते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं मैदान पर गुस्सा नहीं होता। मगर अपना गुस्सा घर में निकालता हूं।' अपने स्कूल के दिनों को याद करते हुए सचिन भावुक हो गए।

No comments:

Post a Comment