About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Tuesday 22 February 2011

विश्व कप : इंग्लैंड की संघर्षपूर्ण जीत

 नीदरलैंड को छह विकेट से हराया, रियान का शतक
नागपुर. डच बल्लेबाज रियान टेन डोएश्चेट (119) का टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले किसी भी देश के खिलाफ अविस्मरणीय हरफनमौला प्रदर्शन भी नीदरलैंड्स को उलटफेर का मौका देने में नाकाम रहा। एंड्रयू स्ट्रास (88) और जोनाथन ट्राट (62) के दमदार पारियों के बावजूद इंग्लैंड को विश्व कप के इस रोमांचक मुकाबले में नीदरलैंड्स को छह विकेट से हराने में पसीना बहाना पड़ा।
एंड्रयू स्ट्रास
डोएश्चेट ने विश्व कप में शानदार फार्म बरकरार रखा और चार मैचों में दो पचासा लगाने के बाद पहला शतक भी जड़ दिया। डजटेच ने 98 गेंदों में शतक पूरा किया। अपनी शतकीय पारी में उन्होंने 109 गेंद खेलते हुए नौ चौका व तीन छक्के जड़ा। डजटेच के शतक, टाम कूपर (47) व टाम डि ग्रूथ (28) के अलावा अंतिम ओवरों में पीटर बोरेन (नाबाद 35 रन, 24 गेंद) की आतिशी बल्लेबाजी के दम पर डच ने 50 ओवर में छह विकेट पर 292 रन बनाने में कामयाब रहा। जवाब में इंग्लैंड ने 48.4 ओवर में चार विकेट पर 296 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। कमजोर टीम से मिली विशाल लक्ष्य के जवाब में सलामी बल्लेबाजों स्ट्रास और केविन पीटसरन ने आतिशी पारी खेलते हुए माकूल जवाब देते हुए पहले विकेट के लिए 17.4 ओवर में 105 रन की साझेदारी की। स्ट्रास ने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए तेजी से रन बटोरे और मात्र 34 गेंदों में पचासा ठोक दिया। दूसरी तरफ डच फील्डरों ने शानदार क्षेत्ररक्षण करते हुए काफी रन बचाए। पीटरसन के रूप में पहला विकेट गिरा जिसे पीटर सीलार ने कैच आउट कराया। स्ट्रास का आक्रामक अंदाज जारी था और जोनाथन ट्राट के साथ 59 रन जोड़े। मुदस्सर बुखारी ने 83 गेंदों में 88 रन बनाकर खेल रहे स्ट्रास को कूपर के हाथों कैच आउट कराया। ट्राट ने भी अर्धशतकीय पारी खेली और 62 रन (65 गेंद) बनाकर शतक लगाने वाले डेजटेच ने अपना पहला शिकार बनाया। डोएश्चेट ने इयान बेल (33) को बोल्ड कर मैच में रोमांच ला दिया। लेकिन इसके बाद अनुभवी पाल कोलिंगवुड [नाबाद 30] और रवि बोपारा (नाबाद 30) ने पांचवें विकेट के लिए अविजित 55 रन की साझेदारी कर टीम को उलटफेर का शिकार होने से बचा लिया। विश्व कप में ग्रुप-बी का यह मैच 49वें ओवर में तक खींचा। डच टीम जिस अंदाज में खेल रही थी उससे एक समय ऐसा लग रहा था कि इस बार विश्व कप में कुछ कारनामा कर लेगा। विश्व कप में अभी तक एसोसिएट टीमों का प्रदर्शन लचर रहा है लेकिन डच बल्लेबाजों ने आज इंग्लैंड के खिलाड़ियों के पसीने छुड़ा दिए।
इससे पूर्व नीदरलैंड्स ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया और सलामी बल्लेबाजों एलेक्सी कर्वेजी (16) और वेस्ले बरासी (29) ने पहले विकेट के लिए छह ओवर में 36 रन जोड़ दिए। 25 गेंद पर 16 रन बनाने के बाद करवीजी ब्रेसनन की गेंद पर विकेटकीपर प्रायर के हाथों लपके गए। नीदरलैंड्स अभी इस दर्द से उबरने की कोशिश कर ही रहा था कि उसे वेस्ले बारेसी (29) के रूप में एक और करारा झटका लग गया। बारेसी ग्रीम स्वान की गेंद पर आगे बढ़कर शाट खेलने के चक्कर में स्टंप्ड हो गए। कूपर व डजटेच ने डच पारी को बेहतर ढंग से संवारा और सौ के पार पहुंचाते हुए स्कोर 136 रन तक ले गए। डजटेच ने बेहतरीन बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया और टेस्ट खेलने वाले किसी भी देश के खिलाफ उन्होंने वनडे में सर्वश्रेष्ठ पारी खेली।
डोएश्चेट ने 59 गेंदों में विश्व कप में अपना तीसरा पचासा पूरा किया। हालांकि विश्व कप में अपना पहला ही मैच खेल रहे कूपर मात्र तीन रन से अर्धशतक नहीं लगा सके। संयम के साथ बल्लेबाजी करते हुए तीन चौके के साथ 73 गेंदों में 47 रन बनाए। वह कोलिंगवुड की गेंद पर कैच आउट हुए। इसके बाद बेस जोइडेरैंट (1) जल्दी वापस लौट गए। डजटेच को इस झटके के बाद टाम डि ग्रूथ का बढ़िया साथ मिला। दोनों ने मिलकर पांचवें विकेट के लिए 64 रन जोड़े। ग्रूथ 31 गेंदों पर 28 रन बनाकर स्टुअर्ट ब्राड की गेंद पर बोल्ड हो गए। दूसरी तरफ डजटेच का आक्रामक अंदाज जारी था और लगभग हर गेंदबाजों पर जमकर प्रहार करते हुए तेजी से अपने दूसरे शतक की ओर बढ़ते गए। डजटेच के प्रहार के आगे इंग्लिश गेंदबाज काफी भटके नजर आए। डजटेच ने अपना शतक 45वें ओवर में पूरा किया। 98 रन पर खेल रहे डजटेच ने ब्राड की गेंद पर एक रन चुराने की कोशिश की लेकिन क्षेत्ररक्षक लारा ओवरथ्रो से चौका चला गया और करियर का चौथा शतक ठोक दिया।
------------------------------------------
 स्कोर कार्ड
नीदरलैंड                                               रन    गेंद    4    6
कर्वेजी कै प्रायर बो ब्रेस्नन                      16    25    2    0
बैरेसी स्टंप्स प्रायर बो स्वान                    29    25    6    0
कूपर कै एंडरसन बो कोलिंगवुड                47    73    3    0
डोएश्चेट कै बोपारा बो ब्राड                        119    110    9    3
जुइडेरेंट कै कोलिंगवुड बो स्वान               1    10    0    0
ग्रूथ बो ब्राड                                            28    31    3    0
बोरेन नाबाद                                          35    24    4    0
बुखारी नाबाद                                        6    5    0    0
अतिरिक्त : 14, कुल :  50 ओवर में 6 विकेट पर 292 रन।
विकेटपतन : 1-36 (एलेक्सी कर्वेजी, 6.2), 2-58 (वेस्ली बोरेसी, 11.4), 3-136 (टाम कूपर, 28.1), 4-149 (बास जुइडेरेंट, 32.5), 5-213 (टाम डी ग्रूथ, 42.5), 6-274 (रियान टेन डोएश्चेट, 48.1).
गेंदबाजी : जेम्स एंडरसन 10-0-72-2, स्टुअर्ट ब्राड 10-2-65-2, टिम ब्रेस्नन 10-0-49-1, ग्रीम स्वान 10-0-35-2, पाल कोलिंगवुड 8-0-46-1, केविन पीटरसन 2-0-19-0.
इंग्लैंड    रन    गेंद    4    6
स्ट्रास कै कूपर बो बुखारी    88    83    9    0
पीटरसन कै बोरेन बो सीलार     39    61    5    0
ट्राट स्टंप्स बैरेसी बो   डोएश्चेट    62    65    4    0
बेल बो टेन डोएश्चेट    33    40    1    0
कोलिंगवुड नाबाद    30    23    2    0
बोपारा नाबाद    30    20    2    1
अतिरिक्त : 14, कुल :  48.4 ओवर में 4 विकेट पर 296 रन।  
विकेटपतन : 1-105 (केविन पीटरसन, 17.4), 2-166 (एंड्रयू स्ट्रास, 29.2), 3-224 (जोनाथन ट्राट, 40.1), 4-241 (इयान बेल, 42.6).
गेंदबाजी : मुद्दस्सर बुखारी 9-0-54-1, बेरेंड वेस्टदिज्क 7-0-41-0, बर्नार्ड लूट्स 9.4-0-74-0, पीटर सीलार 10-0-54-1, रियान टेन डोएश्चेट 10-0-47-2, टाम कूपर 3-0-23-0.
---------------------------------------
हालैंड ने दिया आईसीसी को करारा जवाब
नई दिल्ली. हालैंड (नीदरलैंड) ने इंग्लैंड के खिलाफ नागपुर में विश्व कप मुकाबले में छह विकेट पर 292 रन का मजबूत स्कोर खड़ा कर अंतरराष्टीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को करारा जवाब दे दिया है।
हालैंड के बल्लेबाज रियान टेन डोएश्चेट
आईसीसी के मुख्य कार्यकारी हारून लोर्गट ने हाल ही में घोषणा की थी कि 2015 में होने वाला अगला विश्व कप मौजूदा 14 टीमों के बजाय 10 टीमों का होगा ताकि अगले विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ वनडे टीमों को रखा जा सके।  लोर्गट के इस फैसले की आस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने भी वकालत की। श्रीलंका के हाथों कनाडा की 210 रन की पराजय और न्यूजीलैंड के हाथों केन्या की 10 विकेट से पराजय से इस बात को और बल मिला। लेकिन इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम के खिलाफ  हालैंड ने अपने प्रदर्शन से दिखाया कि आईसीसी का फैसला सही नहीं है। आईसीसी के इस फैसले का एसोसिएट देशों ने कड़ा विरोध किया है। मौजूदा विश्व कप में हालैंड, आयरलैंड, केन्या और कनाडा एसोसिएट देश हैं। आईसीसी वनडे विश्व कप टीमों की संख्या को 10 लाना चाहती है वहीं टी-20 विश्व कप में टीमों की संख्या को 12 से बढ़ाकर 16 ले जाना चाहती है। आईसीसी क्रिकेट को विश्व स्तर पर फैलाना चाहती है। लेकिन उसका यह कदम क्रिकेट के विकास के आड़े आ सकता है। हालैंड चाहे यह मैच जीते या हारे लेकिन उसने अपने पहले ही मैच से विश्व कप में अपनी मौजूदगी दर्ज करा दी है। दूसरी छोटी टीमें उसके प्रदर्शन से प्रेरणा ले सकती हैं।
 हालैंड ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। एलेक्सी कर्वेजी (16) और वेस्ली बारेसी (29) ने पहले विकेट के लिए 6.2 ओवर में 36 रन जोड़े। कर्वेजी 25 गेंदों में दो चौकों की मदद से 16 रन बनाकर टिम ब्रेस्नन की गेंद पर विकेट के पीछे मैट प्रायर के हाथों लपके गए जबकि बारेसी ने 25 गेंदों की अपनी पारी में छह चौकों की मदद से 29 रन बनाए।  बैरेसी के 12वें ओवर में ग्रीम स्वान की गेंद पर आउट होने के बाद डोएश्चेट और कूपर हालैंड को 136 रन तक ले गए। कूपर ने संयम के साथ खेलते हुए 73 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 47 रन बनाए और वह मात्र तीन रन से अपना अर्धशतक बनाने से चूक गए। उन्हें पाल कोलिंगवुड ने जेम्स एंडरसन के हाथों कैच कराया।  ग्रूथ 31 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 28 रन बनाने के बाद ब्राड की गेंद पर बोल्ड हुए। लेकिन कप्तान बोरेन ने सिर्फ 24 गेंदों में चार चौकों की मदद से नाबाद 33 रन ठोके। 50 ओवर की समाप्ति पर हालैंड का 292 रन का स्कोर इंग्लैंड सहित सभी को हैरत में डालने वाला था। इंग्लैंड के नंबर एक तेज गेंदबाज एंडरसन दस ओवर में 72 रन लुटाकर सबसे महंगे रहे। ब्राड ने 65 रन पर दो विकेट और आफ स्पिनर ग्रीम स्वान ने 35 रन पर दो विकेट लिए1 ब्रेस्रन और कोलिंगवुड को एक-एक विकेट मिला।
----------------------------------
वानखेडे को मिला फायर क्लीयरेंस
मुंबई.  मुंबई के अग्निशमन विभाग ने क्रिकेट विश्वकप के फाइनल के मेजबान स्थल यहां के वानखेड़े  स्टेडियम को हरी झंडी देकर मुंबई क्रिकेट संघ के अधिकारियों को राहत की सांस भी दे दी है।
फाइनल का मेजबान स्थल वानखेड़े  स्टेडियम, मुंबई
अंतरराष्टीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने विश्व कप फाइनल के मेजबान स्टेडियम वानखेडे को अपनी मंजूरी दे दी थी लेकिन इस स्टेडियम को सोमवार तक फायर क्लीयरेंस नहीं मिल पाया था। इससे दो अप्रैल को होने वाले फाइनल को लेकर अनिश्चितता का माहौल बना था। अग्निशमन विभाग के अधिकारियों ने पुनरद्धार किए गए इस स्टेडियम का सोमवार को निरीक्षण करने के बाद कहा था कि इसमें कुछ और प्रगति की जानी है। उप अग्निशमन प्रमुख ए एन शिंदे ने आज स्टेडियम का फिर निरीक्षण करने के बाद संवाददाताओं को बताया कि कुछ अनियमितताएं जरूर थीं लेकिन वे ज्यादा गंभीर नहीं थी। वे नियमों का पालन कर रहे हैं और काम चालू है। शहर के अग्निशमन विभाग के प्रमुख उदय तत्कारे ने गत सप्ताह स्टेडियम का दौरा करने के बाद फायर सुरक्षा के मामले में कई कमियों को उजागर किया था और स्टेडियम को क्लीयरेंस नहीं दी थी। तक्कारे ने कहा था कि उन्होंने महाराष्टÑ क्रिकेट संघ (एमसीए) को पत्र लिखकर इन कमियों के बारे में बताया है।  एमसीए ने भी अपने सभी संसाधन झोंककर इन कमियों को पूरा किया।
------------------------------
पोंटिंग ने गुस्से में तोड़ा टीवी सेट
 अहमदाबाद. आस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने सोमवार को जिम्बाब्वे के खिलाफ विश्व कप मैच में रन आउट होने के बाद गुस्से में आकर टीम के ड्रेसिंग रूम में अपने बल्ले से टेलीविजन सेट तोड़ दिया।  पोंटिंग के टीवी सेट तोड़ने की घटना की जानकारी अंतरराष्टीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी)  को दे दी गई है। हालांकि आईसीसी के सूत्र ने कहा है कि इस मामले को आगे बढ़ाए जाने की कोई संभावना नहीं है।
आस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग
 आस्ट्रेलियाई कप्तान जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच   के दौरान जब दूसरा रन लेने की कोशिश कर रहे थे तो क्रिस एमपोफू  के मिडविकेट बाउंड्री से फेंके गए सीधे थ्रो से वह रनआउट हो गए।  पवेलियन लौटते समय पोंटिंग नाराजगी में खुद से ही बातें करते जा रहे थे और ऐसा लगता है कि ड्रेसिंग रूम तक पहुंचते पहुंचते गुस्सा उन पर हावी हो चुका था। जब वह ड्रेसिंग रूम में पहुंचे तो उस समय टीवी पर उनके आउट होने का रीप्ले दिखाया जा रहा था जिसे देखते ही पोंटिंग का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने अपना बल्ला टेलीविजन पर दे मारा।  गुजरात क्रिकेट संघ के सचिव राजेश पटेल ने इस घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि हां यह मामला हुआ था। हमने इस घटना के बारे में आईसीसी और आस्ट्रेलियाई क्रिकेट के अधिकारियों को सूचित कर दिया है। पटेल ने हालांकि इस घटना को बेहद मामूली बताया। आस्ट्रेलिया ने विश्वकप के अपने पहले मैच में 91 रन से जीत हासिल की थी।
पोंटिग की हरकत पर आस्ट्रेलिया का टिप्पणी से इंकार
 अहमदाबाद . आस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिग की डेसिंग रुम में अपने बल्ले से टीवी तोड़ने की हरकत पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने कोई टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।
 पोंटिंग ने सोमवार को यहां जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच में रन आउट होने के बाद गुस्से में डेसिंग रुम में आकर अपना बल्ला ही चलते टीवी पर मार दिया था। इस घटना के बारे में अन्तरराष्टÑीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी)  को सूचित कर दिया गया है। लेकिन इस बारे में पूछने पर क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रवक्ता ने कहा कि मुझे इस मुद्दे पर कुछ नहीं कहना है।

No comments:

Post a Comment