About Me

My photo
"खेल सिर्फ चरित्र का निर्माण ही नहीं करते हैं, वे इसे प्रकट भी करते हैं." (“Sports do not build character. They reveal it.”) shankar.chandraker@gmail.com ................................................................................................................................................. Raipur(Chhattigarh) India

Monday 28 February 2011

विश्व कप : रोच की हैट्रिक, विंडीज की बड़ी जीत

वेस्टइंडीज ने नीदरलैंड को एकतरफा 215 रन से हराया, गेल व पोलार्ड ने ठोंके अर्धशतक 
क्रिस गेल
नई दिल्ली. सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल (80) की जूझारू और कीरोन पोलार्ड (60) की धमाकेदार पारी के बाद तेज गेंदबाज केमोर रोच (27/6) के टूर्नामेंट की पहली हैट्रिक के दम पर वेस्टइंडीज ने शुरुआती हार का गम भुलाते हुए विश्व कप के ग्रुप-बी के एक मुकाबले में नीदरलैंड को 215 रनों से हराकर बड़ी जीत हासिल कर लिया है।
वेस्टइंडीज के तीन बल्लेबाजों ने अर्धशतक जमाया। गेल और पोलार्ड के अर्धशतकों के अलावा डेवोन स्मिथ (53) और रामनरेश सरवन (49) ने भी अच्छी पारी खेली जिसके दम पर कैरेबियाई टीम ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 330 रन बनाए। जवाब में टाम कूपर ने एकल साहसिक पारी खेलते हुए नीदरलैंड्स का स्कोर सौ के पार पहुंचाया। लेकिन रोच के छह विकेटों के आगे पूरी डच टीम 31.3 ओवर में 115 रन बनाकर आल आउट हो गई। कूपर 67 गेंदों में पचासा लगाने वाले 72 गेंदों में 55 रन बनाकर नाबाद रहे। वेस्टइंडीज की दो मैचों में यह पहली जीत है जबकि नीदरलैंड्स अपना दोनों मैच हारा है।
बड़े लक्ष्य के आगे डच टीम को इस बार बहुत ही खराब शुरुआत मिली। मात्र 36 रन के स्कोर पर उसके शीर्ष क्रम के पांच बल्लेबाज पवेलियन लौट गए। बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद गेंदबाजों ने भी कसी हुई गेंदबाजी की और विपक्षी बल्लेबाजों को जमने का मौका नहीं दिया। रोच ने पारी के दूसरे ओवर में वेस्ले बारेसी (0) को गेल के हाथों कैच कराकर डच टीम को पहला झटका दिया। इसके बाद तेज गेंदबाज सुलेमान बेन ने एलेक्सी कर्वेजी (14) को स्टंप कराकर जल्द ही दूसरा झटका दिया। पिछले मैच में इंग्लैंड के खिलाफ शानदार शतकीय पारी खेलने वाले रेयान टेन डोएश्चेट (7) आज अपना पिछला प्रदर्शन नहीं दुहरा सके। बेन की गेंद पर पगबाधा होने पर डजटेच ने अंपायर की फैसले की रिव्यू भी कराया पर सफलता नहीं मिली और आउट हो गए।
बेस ज्युडेरेंट (1), टीम डी ग्रूथ (1) भी तुरंत चलते बने। टाम कूपर दूसरे छोर पर टिके रहे और एक-एक कर रन बनाते हुए टीम की शर्मनाक स्थिति से बाहर ले जाने में जुटे रहे। कूपर ने कप्तान पीटर बेरोन (10) के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 20 रन जोड़ने के बाद बेरोन भी विपक्षी कप्तान डेरेन सैमी की गेंद पर कैच आउट हो गए। कूपर को मुदस्सर बुखारी (24) का बढ़िया साथ मिला और दोनों ने सातवें विकेट के लिए 57 रन की साझेदारी कर टीम का स्कोर सौ रन के पा पहुंचा दिया। मैच का समापन उम्मीद के मुताबिक हो रहा था कि रोच ने अंतिम तीन विकेट लगातार तीन गेंदों पर लेकर टूर्नामेंट की पहली हैट्रिक अपने नाम कर लिया।
रोच ने पीटर सीलार (1), लूट्स (1) और बर्नार्ड वेस्टडीक (0) को आउट कर मैच समाप्त किया।
इससे पहले बल्लेबाजी का निमंत्रण मिलने के बाद कैरेबियाई बल्लेबाजों ने सधी हुई शुरुआत की। स्मिथ और गेल ने आतिशी बल्लेबाजी करते हुए 16.3 ओवर में 100 रन जोड़ दिए। 45 गेंदों में पचासा पूरे करने वाले स्मिथ 53 रन बनाकर बर्नार्ड लुट्स की गेंद पर बारेसी लारा लपके गए। स्मिथ के आउट होने के बाद गेल ने डेरेन ब्रावो के साथ पारी को आगे बढ़ाया और दूसरे विकेट के लिए 68 रन और जोड़े। ब्रावो 38 गेंदों में 30 रन बनाकर पीटर सीलार की गेंद पर करवेजी के हाथों लपके गए। पिछले मैच में असफल रहे रामनरेश सरवन (49) ने आज बेहतरीन पारी खेली और टीम के स्कोर को तेजी से आगे बढ़ाया।
टीम का तीसरा विकेट गेल के रूप में गिरा। हालांकि गेल ने आज विस्फोटक बल्लेबाजी नहीं की और डजटेच की गेंद पर आउट होने से पूर्व 110 गेंदों में सात चौके व दो छक्के के दम पर 80 रन बनाए। कैरेबियाई पारी की खासियत पोलार्ड की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी रही जिन्होंने मात्र 27 गेंदों में पांच चौकों व चार छक्कों के साथ 60 रन ठोक दिए। शीर्ष बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद कप्तान सैमी (6), शिवनारायन चंद्रपाल (4) और डेवोन थामस (13) बड़ी पारी नहीं खेल सके। डच टीम की ओर से सीलार ने 45 रन देकर तीन विकेट चटकाए।
--------------------------------------
 स्कोर कार्ड
वेस्टइंडीज                                                   रन    गेंद    4    6
स्मिथ कै बैरेसी बो लूट्स                                53    51    9    0
गेल कै कर्वेजी बो टेन डोएश्चेट                         80    110    7    2
ब्रावो कै कर्वेजी बो सीलर                                30    38    1    2
सरवन पगबाधा बो वेस्तदिज्क                      49    42    7    1
पोलार्ड कै डोएश्चेट बो बुखारी                         60    27    5    4
सैमी कै कर्वेजी बो सीलर                              6    6    1    0
चंद्रपाल बो सीलर                                        4    6    0    0
थामस पगबाधा बो बुखारी                          13    13    1    0
मिलर नाबाद                                             11    7    2    0
बेन नाबाद                                                3    1    0    0
अतिरिक्त : 21, कुल : 50 ओवर में 8 विकेट पर 330 रन।
विकेटपतन : 1-100 (डेवोन स्मिथ, 16.3), 2-168 (डैरेन ब्रावो, 31.2), 3-196 (क्रिस गेल, 36.2), 4-261 (रामनरेश सरवन, 42.1), 5-278 (डैरेन सैमी, 43.4), 6-290 (चंद्रपाल, 45.4), 7-312 (कीरोन पोलार्ड, 47.5), 8-326 (डेवोन थामस, 49.4).
गेंदबाजी : मुदस्सर बुखारी 10-1-65-2, बेरेंड वेस्तदिज्क 7-0-56-1, रेयान टेन डोएश्चेट 10-0-77-1, बर्नार्ड लूट्स 7-0-44-1, टाम कूपर 6-0-37-0, पीटर सीलर 10-1-45-3.
नीदरलैंड                                           रन    गेंद    4    6
कर्वेजी स्टंप्स थामस बो बेन                14    20    2    0
बैरेसी कै गेल बो रोच                           0    5    0    0
कूपर नाबाद                                       55    72    9    0
डोएश्चेट पगबाधा बो बेन                     7    6    1    0
जुएडेरेंट बो रोच                                 1    4    0    0
ग्रूथ पगबाधा बो बेन                          1    5    0    0
बोरेन कै पोलार्ड बो सैमी                   10    28    1    0
बुखारी बो रोच                                  24    42    2    0
सीलर पगबाधा बो रोच                     1    5    0    0
लूट्स पगबाधा बो   रोच                   0    1    0    0
वेस्तदिज्क बो रोच                          0    1    0    0
अतिरिक्त : 2, कुल :  31.3 ओवर में 115 रन (आलआउट)। 
विकेटपतन : 1-2 (बैरेसी, 1.4), 2-26 (कर्वेजी, 6.4), 3-34 (रेयान टेन डोएश्चेट, 8.1), 4-35 (जुएडेरेंट, 9.3), 5-36 (ग्रूथ, 10.2), 6-56 (बोरेन, 18.2), 7-113 (मुदस्सर बुखारी, 29.4), 8-115 (पीटर सीलर, 31.1), 9-115 (लूट्स, 31.2), 10-115 (वेस्तदिज्क, 31.3). 
गेंदबाजी : सुलेमान बेन 8-1-28-3, क्रेमर रोच 8.3-0-26-6, निकिता मिलर 7-0-23-0, डैरेन सैमी 7-0-33-1, कीरोन 1-0-2-0.
---------------------------------------
जिम्बाब्वे ने कनाडा को 175 रन से रौंदा
तातेंदा ताएबू
नागपुर. तातेंदा ताएबू (98) और क्रेग इरविन (85) की 181 रनों की मजबूत साझेदारी की बदौलत जिम्बाब्वे ने आज यहां विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेले गए विश्वकप के ग्रुप ए मैच मे कनाडा को 175 रनों रौंद दिया।
 टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी जिम्बाब्वे की टीम ने  ताएबू और इरविन ने तीसरे विकेट के लिए 181 रन की बड़ी साझेदारी के दम पर 298 रनों का मजबूत स्कोर खडा कर दिया। मैन आफ द मैच रहे ताएबू ने 99 गेंदों  मे नौ चौकों की मदद से 98 रन की बेहतरीन पारी खेली जबकि इरविन ने भी 81 गेंदों में छह चौकों और दो छक्कों की मदद से 85 रन बनाए।  299 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कनाडाई टीम का कोई भी खिलाडी जिम्बाब्वे के गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाया और पूरी टीम 123 के स्कोर पर आउट हो गई। कनाडाई टीम की शुरूआत बेहद खराब रही। पारी के दूसरे ही ओवर में ओपनर जान डेविसन रे प्राइस की गेंद पर बिना खाता खेले ही बोल्ड हो गए1 विश्वकप में पर्दापण करने वाले नितीश कुमार भी मात्र एक रन पांचवें ओवर की तीसरी गेंद पर बनाकर प्राइस की गेंद का शिकार हो गए। टीम ने अगली ही गेंद में आशीष बगई (शून्य) का विकेट भी खो दिया। हालांकि इसके बाद रुविंदु गुणशेखरा (24) और जिम्मी हंसरा  (20) ने  टीम को संभालने की कोशिश की और चौथे विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की। लेकिन 50 के टीम स्कोर पर हंसरा भी उत्सेया की गेंद
का शिकार हो गए और उसके बाद गुणशेखरा भी इसी टीम स्कोर पर आउट होकर पवेलियन लौट गए। टीम ने 23वें ओवर रिजवान चीमा (14) के रूप में छठा विकेट भी गंवा दिया। इसके बाद टाएसन गार्डन सात और खुर्रम चौहान आठ रन बनाकर पवेलियन लौट गए। कनाडा की ओर से जुबिन सुरकारी ने सर्वाधिक 26 रन बनाए। वह 122 रन के टीम स्कोर पर ग्रेग लैंब की गेंद पर आउट हो गए। टीम स्कोर में अभी एक ही रन और जुडा था कि बालाजी राव ( एक) भी ग्रीम क्रेमर की गेंद का शिकार हो गए और टीम की पारी मात्र 123 रनों में सिमट कर रह गई। हरवीर बैदवान 13  रन बनाकर नाबाद रहे।  जिम्बाब्वे की ओर से प्राइस ने 16 रन पर तीन विकेट और क्रेमर ने 31 रन पर तीन विकेट लिए जबकि प्रास्पर उत्सेया  ने 24 रन और लैंब ने 29 रन पर दो दो विकेट चटकाए।
 इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी जिम्बाब्वे की शुरूआत भी बेहद खराब रही और पहले ओवर की पहली ही गेंद पर ब्रेंडन टेलर (शून्य) के रूप में उसका पहला विकेट गिर गया1 इसके बाद चार्ल्स कोवेंट्री (चार) भी चौथे ही ओवर में हरवीर बैदवा की गेंद पर पगबाधा हो गए। लेकिन इसके बाद ताएबू और इरविन ने तीसरे विकेट के लिए जबरदस्त साझेदारी कर क नाडाई गेंदबाजों की हालत पतली कर दी। इरविन 32वें ओवर में 188 रन के टीम स्कोर पर बालाजी राव की गेंद का शिकार हो गए। इसके बाद जल्द ही टीम ने एल्टन चिगुम्बरा (पांच) के रूप में अपना चौथा विकेट भी गंवा दिया।  बालाजी ने 34वें ओवर में इरविन का विकेट लेकर उनके शतक बनाने के उम्मीदों को तोड दिया। इरविन शतक से मात्र दो रन दूर थे। इसके बाद जिम्बाब्वे की कोई भी खिलाडी क्रीज पर नहीं टिक पाया।
 लैंब 11 रन बनाकर छठे विकेट के रूप में बालाजी की गेंद पर बोल्ड हो गए। इसके बाद सीन विलियम्स 30, उत्सेया  22 और  क्रेमर 26 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए जबकि  प्राइस 10 और क्रिस एमपोफू तीन रन बनाकर नाबाद रहे। कनाडा की ओर से बालाजी ने 57 रन देकर सर्वाधिक चार विकेट लिए। खुर्रम चौहान और बैदवां ने दो दो तथा रिजवान चीमा ने एक विकेट झटका।
-------------------------------
स्कोर कार्ड
जिम्बाब्वे                                              रन    गेंद    4    6
टेलर पगबाधा बो चौहान                          0    1    0    0
कोवेंट्री पगबाधा बो बैदवान                      4    10    0    0
ताएबू कै डैविसन बो बालाजी                  98    99    9    0
इरविन कै बगई बो बालाजी                    85    81    6    2
चिगुम्बुरा कै बगई बो चीमा                     5    8    1    0
विलियम्स कै बगई बो बालाजी              30    25    3    0
लंब बो बालाजी                                    11    13    1    0
उत्सेया कै हंसरा बो चौहान                   22    29    2    0
क्रेमर बो बैदवान                                  26    23    2    0
प्रिंस नाबाद                                        10    6    2    0
म्पोफु नाबाद                                      3    5    0    0
अतिरिक्त : 4, कुल : 50 ओवर में 9 विकेट पर 298 रन।
विकेटपतन : 1-0 (टेलर, 0.1), 2-7 (चार्ल्स कोवेंट्री, 3.3), 3-188 (इरविन, 31.2), 4-193 (चिगुम्बुरा, 32.4), 5-201 (ताएबू, 33.6), 6-219 (लंब, 37.4), 7-240 (विलियम्स, 41.4), 8-281 (प्रास्पर उत्सेया, 7.4), 9-284 (क्रेमर, 48.2).
गेंदबाजी : खुर्रम चौहान 10-0-44-2, हरवीर बैदवान 9-0-47-2, जिम्मी हंसरा 4-0-41-0, रिजवान चीमा 9-0-51-1, बालाजी राव 10-0-57-4, जान डैविसन 8-0-56-0.
कनाडा                                        रन    गेंद    4    6
डैविसन बो प्राइस                         0    8    0    0
नीतिश कै एंड बो प्राइस                1    10    0    0
गुणसेकरा बो लंब                       24    64    2    0
बगई कै विलियम्स बो प्राइस       0    1    0    0
हंसरा स्टंप्स ताएबू बो उत्सेया     20    41    1    1
चीमा कै क्रेमर बो उत्सेया          14    10    2    1
सुरकारी स्टंप्स तायबू बो लंब     26    48    2    0
गोर्डन पगबाधा बो क्रेमर            7    20    1    0
चौहान पगबाधा बो क्रेमर           8    22    1    0
बैदवान नाबाद                          13    23    1    0
बालाजी बो क्रेमर                      1    6    0    ०
 अतिरिक्त : 9, कुल :  42.1 ओवर में 123 रन (आलआउट)।
विकेटपतन : 1-1 (जान डैविसन, 1.3), 2-7 (नीतिश कुमार, 5.3), 3-7 (आशीष बगई, 5.4), 4-50 (जिम्मी हंसरा, 20.3), 5-50 (गुणसेकरा, 21.1), 6-66 (रिजवान चीमा, 22.5), 7-78 (गोर्डन, 26.6), 8-97 (खुर्रम चौहान, 34.3), 9-122 (सुरकारी, 41.1), 10-123 (बालाजी राव, 42.1).
गेंदबाजी : क्रिस म्पोफु 5-1-12-0, रे प्राइस 8-4-16-3, प्रास्पर उत्सेया 7-0-24-2, ग्रेग लंब 8-0-29-2, ग्रीम क्रेमर 9.1-1-31-3, सीन विलियम्स 5-0-11-0.
--------------------------------
नीतीश बने विश्व कप में पदार्पण करने
वाले सबसे युवा खिलाड़ी
नीतीश कुमार
 नागपुर. 16 वर्षीय स्कूली छात्र नीतीश कुमार जिम्बाब्वे के खिलाफ सोमवार को कनाडा की ओर से ग्रुप मैच में खेलने के साथ ही विश्व कप में पर्दापण करने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बन गए हैं। दिलचस्प बात यह है कि भारतीय मूल के नितीश विश्व कप के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी 40 वर्षीय जान डेविसन के साथ पारी की शुरुआत करेंगे जो अपना तीसरा विश्व कप खेल रहे हैं। अपने साथी खिलाड़ी पर भरोसा जताते हुए डेविसन ने कहा कि पहली बार जब मैंने  नितीश को देखा तो वह महज छह वर्ष के थे और यह दस साल पुरानी बात है। मैं एक छह वर्ष के बच्चे का उसके शाट्स के ऊपर नियंत्रण देखकर दंग रह गया। उस छोटी सी उम्र में भी वह पुल शाट्स लगा सकते थे और मुझे यह बात बहुत पसंद आई। नीतीश ने अफगानिस्तान के खिलाफ पहले अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था। वह अब तक कनाडा के लिए पांच एक दिवसीय अंतर्राष्टÑीय मैच खेल चुके हैं।  नितीश को ‘तेंदुलकर’ के उपनाम से जाना जाता है। नीतीश का जन्म सचिन तेंदुलकर के 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ वनडे में पर्दापण करने के लगभग साढ़े चार वर्ष बाद यानी 1994 में उनका जन्म हुआ था। नितीश से पूर्व विश्व कप में पर्दापण करने वाला सबसे युवा खिलाड़ी आयरलैंड के  जार्ज डोकरैल थे। उस समय उनकी उम्र 18 वर्ष और 213 दिन थी।
---------------------------
रैंकिंग में सचिन संग बढ़े सहवाग
दुबई. टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर विश्व कप के पहले दो मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर आईसीसी वनडे बल्लेबाजी रैंकिंग में क्रमश: पाचवें और दसवें स्थान पर पहुंच गए हैं।
बांग्लादेश के खिलाफ उद्घाटन मैच में 175 रन की जोरदार पारी खेलने वाले सहवाग ताजा रैंकिंग में छह पायदान ऊपर चढ़ गए हैं, जबकि इंग्लैंड के खिलाफ 120 रन बनाने वाले तेंदुलकर को पाच पायदान का फायदा हुआ है। भारतीय गेंदबाज भले ही अच्छा प्रदर्शन न कर पाने के कारण आलोचना झेल रहे हों, लेकिन जहीर खान नौ पायदान ऊपर चढ़कर 14वें, हरभजन सिंह चार स्थान ऊपर 16वें और मुनफ पटेल 11 स्थान की छलाग लगाकर 22वें नंबर पर पहुंच गए हैं।
भारत के खिलाफ 158 रन की बेहतरीन पारी खेलने वाले इंग्लैंड के कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस को इस पारी से आठ पायदान का फायदा हुआ है। अब वे 13वें स्थान पर काबिज हैं, जो अन्य बल्लेबाज इस सूची में आगे बढ़े हैं, उनमें तमीम इकबाल 23वें (तीन पायदान ऊपर), मिसबाह उल हक 32वें (12 पायदान ऊपर), यूनिस खान 44वें (चार पायदान ऊपर) और केविन ओ ब्रायन 52वें (चार पायदान ऊपर) स्थान पर काबिज हैं।
 इस सूची में आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर शेन वाटसन, दक्षिण अफ्रीका के जेपी डुमिनी, नीदरलैंड्स के रियान टेन डजटेक और दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन सभी ने व्यक्तिगत उपलब्धि हासिल कर ली है। वाटसन चार पायदान ऊपर चढ़कर अपने करियर में पहली बार चोटी के दस बल्लेबाजों में शामिल हो गए हैं। वहीं, डुमिनी दो स्थान ऊपर चढ़ गए हैं और अब वे अपने कप्तान ग्रीम स्मिथ और वेस्टइंडीज के क्रिस गेल के साथ संयुक्त 15वें स्थान पर हैं। टेन डजटेक 12 स्थान से 20वें नंबर पर पहुंच गए हैं। गेंदबाजी में स्टेन चार स्थान ऊपर चौथी पायदान पर पहुंच गए हैं। इसके अलावा विराट कोहली (तीसरे), कुमार संगकारा (आठवें) और गौतम गंभीर (10व) तीनों एक-एक पायदान नीचे खिसक गए हैं। जैक्स कालिस छह स्थान नीचे 14वें, गेल पाच पायदान नीचे 15वें और रिकी पोंटिंग छह पायदान खिसक कर 19वें स्थान पर खिसक गए हैं। दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला और एबी डीविलियर्स बल्लेबाजी सूची में पहले दो स्थान पर काबिज हो गए हैं।
स्टेन के अलावा आस्ट्रेलिया के मिशेल जानसन 12 पायदान की छलाग लगाकर पाचवें स्थान पर काबिज हो गए हैं। उन्होंने पहले दो मैच में आठ विकेट चटकाए हैं। पाकिस्तानी कप्तान शाहिद अफरीदी भी 12 पायदान आगे 11वें स्थान पर पहुंच गए हैं। आस्ट्रेलिया के शाट टैट आठ पायदान की छलाग लगाकर 29वें, इंग्लैंड के टिम ब्रेसनन 11 पायदान ऊपर 30वें तथा पाकिस्तान के शोएब अख्तर सात पायदान ऊपर 37वें स्थान पर पहुंच गए हैं। इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन पहले दो मैच में लचर प्रदर्शन के कारण 12 स्थान नीचे 24वें स्थान पर खिसक गए हैं। गेंदबाजी में न्यूजीलैंड के डेनियल विटोरी शीर्ष पर हैं। उनके बाद दक्षिण अफ्रीका के मोर्ने मोर्कल और जिंबाब्वे रेमंड प्राइस का नंबर आता है। आलराउंडर की रैंकिंग में टेन डजटेक चार पायदान ऊपर पाचवें स्थान पर पहुंच गए हैं। इस सूची में बाग्लादेश के कप्तान साकिब अल हसन शीर्ष पर काबिज हैं।

No comments:

Post a Comment